यह ब्लॉग खोजें

What is Computer Hardware and Software

Hardware aur Software me Difference

What is the difference between Computer Hardware and Software, Example of Input and Output Devices in Hindi

Hardware- Hard यानी ठोस और Ware यानी सामान. Computer से जुड़े हुए सभी सामान या Parts, जिनको हम Touch कर सकते हैं, देख सकते हैं एवं महसूस कर सकते हैं, Hardware कहलाते हैं, जैसे- LCD, Keyboard, CPU, Mouse, RAM आदि. Hardware Device को हम दो भागों में बांट सकते हैं:
  • Input Device और
  • Output Device

Input Device-

Input Device वे Device होते हैं जिनकी मदद से हम Computer को अपने निर्देश दे सकते हैं या अपने निर्देश देकर Input करा सकते हैं. इसे ऐसे भी कहा जा सकता है कि वे Devices जिनसे हम अपने निर्देश Computer तक पहुंचाते हैं Input Devices कहलाते हैं, जैसे- Keyboard, Mouse, Scanner, Microphone आदि.

Output Device-

Output Device वे Device होते हैं जिनसे हम Computer को दिए गए निर्देशों के पूरा होने पर उसके Results देख सकते हैं. वे Device जिनसे हम अपने दिए गए निर्देशों के Results पा सकते हैं Output Device कहलाते हैं, जैसे- Monitor, Printer, Scanner, Speaker, Headphone आदि.

आपको यह भी पढ़ना चाहिए-

कुछ खास तरह के Hardware Device, Input और Output दोनों होते हैं, जैसे- Pen Drive, FAX Machine, Modem, Touch Screen Device, Digital Camera, Network Card आदि.

यहां हम Hardware को बाहरी Hardware और आंतरिक Hardware के रूप में भी बांट सकते हैं. Input और Output Device में सभी Hardware नहीं आते हैं, जैसे- RAM, Processor, Hard Disk आदि. लेकिन आंतरिक और बाहरी Hardware में सभी Hardware आते हैं.

आंतरिक Hardware-

आंतरिक Hardware Hardware Hardware होते हैं जो Computer केबिनेट के अंदर होते हैं जैसे मदरबोर्ड हार्ड डिस्क रेम डीवीडी ड्राइव प्रोसेसर पावर सप्लाई आदि.

बाहरी Hardware-

बाहरी Hardware वे Hardware होते हैं जो Computer Cabinet के बाहर होते हैं, जैसे- Monitor, Keyboard, Mouse, UPS, Printer, Speaker आदि.

Software Kya Hai

Hardware का उपयोग करने के लिए Computer को कुछ Programs की जरूरत होती है जो एक Computer को बताता है कि क्या करना है यह कैसे कार्य करना है उसे Software कहते हैं. कार्यों के आधार पर Software को तीन भागों में बांटा गया है-
  1. System Software
  2. Operating System और
  3. Application Software

System Software-

यह प्रोग्रामिंग भाषा में लिखे गए निर्देशों या प्रोग्राम्स का एक समूह होता है जो Computer System के कार्यों को नियंत्रित करने और उसके विभिन्न भागों की देखभाल व क्षमताओं का बेहतर उपयोग करने के लिए बनाए जाते हैं, System Software कहा जाता है.

System Management Program-

ये वे Program होते हैं जो System का प्रबंधन करने के काम आते हैं. इन Program का प्रमुख कार्य Input Output तथा Memory Unit और Processor के विभिन्न कार्यों का Management करना है. Operating System, Device Drivers तथा System Utility, System Management Program के उदाहरण है .

Operating System- प्रत्येक Computer को एक Operating System की आवश्यकता होती है. जिसके बिना Computer का उपयोग नहीं किया जा सकता है जैसे- MS-DOS, Windows आदि.

Operating System की परिभाषा- Operating System, Human और Computer के बीच का आवरण या माध्यम है जिसके कारण मनुष्य और Computer दोनों आपस में Communicate कर पाते हैं.

Application Software-

Application Software उन Programs को कहा जाता है जो हमारे प्रत्येक दैनिक कार्यों को करने के लिए बनाए जाते हैं जैसे- Office के Employees की Salary का हिसाब-किताब, सभी लेनदेन तथा खातों का हिसाब-किताब रखना, Spreadsheets की स्थिति का विवरण-पत्र तैयार करना आदि. इनमें से MS Word, DBMS Web Browsers, Games के Software आते हैं.

Programming Software

आमतौर पर Computer Programs लिखने में Programmer को सहायक Device प्रदान करने में सहायता करते हैं, जैसे Editor, Compiler, Interpreter आदि.

दोस्तों, आपको यह जानकारी कैसी लगी, Please Comment करके जरूर बताएँ। और अपने दोस्तों के साथ इस जानकारी को जरूर Share करें। धन्यवाद।

सम्बंधित पोस्ट जो आपको पढ़नी चाहिए-

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें