यह ब्लॉग खोजें

Internet,Intranet and Extranet Definition in Hindi

What is the Internet, Intranet and Extranet in Hindi


Internet,Intranet and Extranet Definition in Hindi

दोस्तों,  Internet Kya Hai इसके बारे में हमनें पिछली Post में पढ़ा था और आपने उस Post पर काफी अच्छे अच्छे Comments भी किये थे. आज हम इस Post में Intranet के बारे में Detail में समझेंगे और साथ ही हम Internet, Intranet और Extranet के Example भी यहां देखेंगे ताकि हमें समझने में आसानी हो. साथ ही हम जानेंगे  Uses of Internet, Intranet and Extranet के बारे में। 



इंट्रानेट, एक से अधिक कम्प्यूटरों का एक नेटवर्क होता है. Internet और Intranet में ज्यादा कोई ख़ास Difference नहीं होता है।  नेटवर्कों के नेटवर्क को हम Internet कहते है. Internet के बारे में अधिक जानकारी के लिए आप यह पढ़िए - Internet Kya Hai?

जबकि इंट्रानेट एक से अधिक कम्प्यूटरों का एक नेटवर्क या समूह है जो किसी छोटी जगह उपयोग में लाया जाता है जैसे - School, College, Office आदि के Campus में।

Intranet, कम्प्यूटरों का एक निजी नेटवर्क होता है जो कि Internet Protocol Technology का उपयोग करता है. Intranet का Use Perticular किसी निजी संस्था द्वारा किया जाता है ताकि वह संस्था अपने कर्मचारियों के बिच सूचनाओं का आदान-प्रदान सुरक्षित तरीके से कर सके. Intranet Network काफी हद तक एक सुरक्षित नेटवर्क माना जाता है क्यूंकि यह एक निजी नेटवर्क होता है जिसमें किसी अन्य व्यक्ति या व्यक्तियों का हस्तक्षेप नहीं होता है.

इंटरनेट की बात की जाए तो Internet विभिन्न संस्थाओं के बीच का एक Network है जबकि Intranet किसी संस्था के अंदर एक निजी Network है। 

Internet और Intranet दोनों का नाम काफी हद तक मिलता जुलता है लेकिन हमें पता होना चाहिए कि Internet, नेटवर्को का नेटवर्क है जबकि Intranet एक Software है जो कि Network के अंदर जुड़े कम्प्यूटरों के बीच सूचनाओं का आदान-प्रदान करता है साथ ही Network की सुरक्षा भी करता है. यही इनमें सबसे बड़ा Difference है और हमें इनके बारे में पता होना चाहिए। 

अब बात आती है कि Intranet Software का Use कब और कहाँ किया जाता है. तो मैं आपको बता दूँ कि Intranet Software का उपयोग बड़ी बड़ी कंपनियों या संस्थानों में इंटरनेट की तर्ज पर सूचनाओं के आदान-प्रदान के लिए किया जाता है. इंट्रानेट एक निजी नेटवर्क के तौर पर ही कार्य करता है. चूँकि हम जानते है कि इंट्रानेट Internet Protol (IP) Technology का उपयोग करता है, इसलिए IP Technology का Use करके ही सभी Computers को आपस में Intranet Network या Software के अंतर्गत जोड़ा जाता है.


यही कारण है कि Intranet को "Network Between Organization " भी कहा जाता है. Intranet का Use, Computer संचार से जुड़ा है ताकि बिना Hard Drive या Pen Drive के सूचनाओं या Data का आदान-प्रदान किया जा सके.

साधारण शब्दों में LAN (Local Area Network) और WAN (Wide Area Network) के साथ ही Intranet Software को Establish किया जाता है ताकि उस Organization या Company के अंदर आपस में जुड़े सभी Computers के बीच Data Sharing आसानी से व सुरक्षित तरीके से की जा सके। 

Advantages of Intranet

Intranet के कुछ महत्वपूर्ण फायदे हम आपको बताते है -

Low Costing (कम लागत)-

आज हर कोई व्यक्ति अपने Business के लिए कम से कम पैसा खर्च कर अधिक से अधिक पैसा कमाना चाहता है. ऐसे में यदि आप अपने office में रखे सभी Computers को Intranet के माध्यम से आपस में Connect कर सकते है या Network स्थापित कर सकते है.

ऐसे में होगा ये कि जब office के सारे Computers आपस में एक दूसरे से जुड़े होंगे तो office या Company का हर एक Employee एक-दूसरे के Computer में आसानी से Data Share कर सकेगा। 

समय की बचत 

यदि Boss अपने Employee को कोई Notice या Information भी देना चाहते है तो वह Intranet के माध्यम से सभी Computers में अपना Notice एक सेकंड में शेयर कर सकेगा.  Employes को एक-दूसरे के Computer में Data Share करने के लिए किसी FAX Machine या Email की सहायता नहीं लेनी पड़ेगी और आसानी से पैसा और Time बचाकर Data किसी भी System पर Share किया जा सकेगा।


More productivity (अधिक उत्पादन)

यदि आप अपने Office या Company में Intranet Use करते है तो जैसा कि हमनें अभी पढ़ा कि समय की बचत होगी, जब  की बचत होगी तब Employees को काम करने के लिए और समय मिलेगा. ऐसे में आप अपने Employees से और Result की अपेक्षा रख सकते है.

इसके अलावा आपके Employees को Data या File Search करने में Time Waste नहीं होगा क्यूंकि Intranet के माध्यम से उसके द्वारा चाहि गई File को दूसरा कोई भी Employee उसको वह File Share कर सकता सकता है. इसलिए हम कह सकते है कि समय की बचत के साथ-साथ Productivity बढ़ेगी.

ये तो हमनें इंट्रानेट के कुछ फायदे जान लिए है लेकिन क्या आपको पता है Intranet के कुछ नुकसान भी है जिनके बारे में भी हम यहां पर Discuss करेंगे क्यूंकि जब आप Intranet Use करते है तो आपको इसके फायदों के साथ-साथ नुक्सान के बारे में भी पता होना चाहिए।

Disadvantages of Intranet

Security Risk

जैसा कि  हम जानते है Intranet एक निजी Network है और यह Secure भी होता है लेकिन जैसा कि कहा जाता है ना - Nothing is impossible. यही Rule यहां भी लागू होता है. Intranet में कुछ Security Settings होती है. यदि ठीक तरह से Settings नहीं की जाए तो यहां हमें काफी बड़ा नुक्सान उठाना पद सकता है. क्यूंकि आपका Intranet Network Hack करने के लिए Hackers Ready बैठे है.

इसलिए ध्यान रहे कि जब आप अपने Office Campus में Intranet Network या Software स्थापित कर रहे है तो इसकी Settings ठीक से की जाए नहीं तो भारी नुक्सान उठाना पद सकता है.

Fewer People Interaction (लोगो में मेल-मिलाप कम होगा)



हम जानते है कि जब से Mobile और Internet का ज़माना आया है तब से लोगो को एक दूर से बात करने तक की फुरसत नहीं है. रिश्तेदार और दोस्त तो ठीक यहां तक कि Mobile और Internet आने के बाद अब तो परिवार के लोगो से भी ठीक से बात नहीं हो पाती है। 

ऐसे में यदि आप अपने Office में Intranet स्थापित करते है तो Employees एक दूसरे से Interect ही नहीं हो पाएगे क्यूंकि आपके उनको जो File या Data चाहिए वह उन्हें बैठे-बैठे ही अपने Computer पर Available हो जाएगा।

ऐसे में एक-दूसरे को जानने-पहचानने और समझने में समय लगेगा। और जैसा कि हम जानते है जब तक किसी Team के सभी Members में आपस में तालमेल ठीक से नहीं बैठता तब तक अपेक्षा के अनुसार Result नहीं मिलता है.

Productivity कम भी हो सकती है 

Intranet के Use से आपकी Company में Productivity बढ़ भी सकती है लेकिन कहीं न कहीं घाट भी सकती है. इसका भी एक बड़ा Reason है. Intranet के कारण आपके Employees का काफी समय बचेगा ऐसे में उनको और काम मिलेगा और ऐसे में कोई Employee Free नहीं हो पाएगा।

कोई भी कर्मचारी लगातार  काम करते-करते आसानी से ऊब जाता है। और यदि आपका Employee ऊब जाता है तो उसका काम में मन नहीं लगेगा।  ऐसे में Productivity घट भी सकती है.

Conclusion and Final Words

इंटरनेट एक Publick Network है जबकि इंट्रानेट एक Private Network है। Internet को अनगिनत लोग Access कर सकते है जबकि Intranet को सिर्फ और सिर्फ Particular उस Organization के लोग ही Access कर सकते है जिस Organization में इसे स्थापित किया गया हो. 

Internet एक Secure Network नहीं है जबकि Intranet, इंटरनेट की तुलना में एक Secure Network है. Internet को हम नेटवर्को का नेटवर्क कहते है, यह अलग-अलग नेटवर्कों का एक बड़ा नेटवर्क या महाजाल है जबकि Intranet, इंटरनेट का ही एक पार्ट है जो किसी एक ही Network  आता है.

 दोस्तों Post पसंद आई हो तो Please अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर कीजिए। और यदि आपको लगता है कि Post में कुछ बदलाव करने चाहिए तो Please आप हमें sadupayogblog@gmail.com पर Email Send कर सकते है. धन्यवाद। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें