- - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - -

Breaking

Search This Blog

Oct 9, 2015

An Inspirational Story in Hindi. एक सच्ची व प्रेरणादायक कहानी जो आपका जीवन बदल दे

Thought-of-the-day-Sadupayog-Best-Hindi-Blog-For-internet-mobile-computer-technology-Facebook-Whats-App-online-earning-Tips-and-tricks
Google
हेल्लो दोस्तों कैसे हो ? एक बात तो माननी पड़ेगी की अपने जीवन का कोई भी  छोटे से छोटा कार्य हमारे जीवन में बड़ी महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है | जी हाँ , ऐसी ही एक सच्ची घटना मैं आपके साथ शेयर करना चाहता हु  अच्छी लगे तो कमेंट जरुर करना| ये स्टोरी मैंने कही पर पढ़ी थी | एक बार की बात है , एक व्यक्ति किसी Freezer Plant (फ्रीजर प्लांट) में काम करता था | दिन के अंत में वह रोज की तरह सारे मजदूरों के साथ बाहर निकल रहा था तभी अचानक प्लांट में कोई तकनिकी खराबी (Technical Problem) आ गई | वह व्यक्ति उसे सुधारने में लग गया | देखते देखते काफी समय बित गया |
प्लांट की सभी लाइटें बंद कर दी गई , दरवाज़े सील कर दिए गए | वह आदमी अन्दर ही फस गया | बिना हवा, प्रकाश के आईस प्लांट (ICE Plant) में बंद रहना मतलब मौत के मुह में जाकर बैठ जाना |

थोड़ी देर बाद उसने पाया की कोई गेट खोलकर टौर्च लिए खड़ा है | यह किसी चमत्कार से कम नहीं था | उसने देखा की सिक्यूरिटी गार्ड दरवाज़े पर उसकी मदद के लिए टोर्च लिए खड़ा हुआ है |
बाहर निकल कर उस व्यक्ति ने सिक्यूरिटी गार्ड से पूछा - "आपको कैसे पता चला की मैं भीतर हूँ ?"

गार्ड ने जवाब दिया - "सर इस प्लांट में बहुत सारे लोग काम करते हैं किन्तु सिर्फ आप ही है जो मुझे रोजाना सवेरे आते समय हाय/हेल्लो करते है और शाम को जाते समय बाय बोलकर जाते है | मैंने आपको सवेरे आते हुए देखा था किन्तु जाते हुए नहीं देख पाया इसलिए देखने चला आया"
 वह व्यक्ति नहीं जानता था की रोज रोज किसी को छोटा सा सम्मान देना ही उसकी जान बचाएगा | कभी भी किसी भी व्यक्ति से मिलते समय उसका गर्मजोशी से व मुस्कुराते हुए स्वागत करें और हमेशा विनम्रता से पेश आएं | क्या पता आपके जीवन में भी चमत्कार हो जाए |

धन्यवाद. |